×

राज्य

Kannauj Encounter : यूपी पुलिस की टीम पर हमला, सिपाही की मौत

Kannauj Encounter: कन्नौज में जुलाई 2020 के बाद एक बार फिर से खाकी पर हमला हुआ और एक सिपाही की मौत हो गई. पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर बाप-बेटे को करीब दो घंटे चली मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया है.दोनो के पैर में पुलिस की जवाबी कार्रवाई में गोली लगी.दरअसल सोमवार को कन्नौज की छिबरामऊ पुलिस… Continue reading Kannauj Encounter : यूपी पुलिस की टीम पर हमला, सिपाही की मौत

kannauj crime news politics
हिस्ट्रीशीटर ने बेटे संग मिलकर की पुलिस पर फायरिंग
india ahead

Kannauj Encounter: कन्नौज में जुलाई 2020 के बाद एक बार फिर से खाकी पर हमला हुआ और एक सिपाही की मौत हो गई. पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर बाप-बेटे को करीब दो घंटे चली मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया है.दोनो के पैर में पुलिस की जवाबी कार्रवाई में गोली लगी.दरअसल सोमवार को कन्नौज की छिबरामऊ पुलिस वारंटी हिस्ट्रीशीटर को गिरफ्तार करने के लिए गई थी.आरोप है कि हिस्ट्रीशीटर ने अपने बेटे और पत्नी के साथ मिलकर पुलिस टीम के उपर फायरिंग कर दी.जिसमें सिपाही सचिन भाटी को गोली लगी, उनको अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया. जहां उनकी मौत हो गई.

Kannauj में तीन साल बाद दोहराया बिकरू कांड जैसा Encounter

कानपुर का बिकरू कांड तो आपको याद ही होगा. माफिया विकास दुबे को गिरफ्तार करने गई पुलिस टीम पर संगठित होकर हमला किया गया था.जिसमें 13  पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी.और अब तीन साल बाद यूपी के कन्नौज में सोमवार को हिस्ट्रीशीटर ने दुस्साहस दिखाया और उसको गिरफ्तार करने गई छिबरामऊ थाना पुलिस के उपर फायरिंग कर दी.जिसमें एक गोली सिपाही सचिन भाटी को जा लगी.उनको कानपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया.जहां उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई.बता दें कि फरवरी में सचिन की शादी होनी थी.उनकी मौत के बाद उनके परिवार में कोहराम मच गया. पुलिस टीम ने करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद हिस्ट्रीशीटर अशोक और उसके बेटे टिंकू को गिरफ्तार कर लिया.दोनो के पैर में गोली लगी है.

हिस्ट्रीशीटर अशोक के उपर लूट, हत्या, डकैती सहित कई गंभीर धाराओं में 20 से अधिक केस दर्ज थे. उसकी गिरफ्तारी के लिए वारंट भी हुए थे.जिसके आधार पर पुलिस उसको गिरफ्तार करने के लिए गई थी. बताया ये भी जा रहा है कि पुलिस टीम के ऊपर फायरिंग करने के मामले में अशोक की पत्नी भी शामिल है और उसको भी गिरफ्तार कर लिया गया है.

अमित कुमार आनंद, पुलिस अधीक्षक,कन्नौज

मुजफ्फरनगर के रहने वाले थे सचिन

हिस्ट्रीशीटर की गोली से जान गंवाने वाले सचिन भाटी मुजफ्फरनगर के रहने वाले थे. सचिन का एक बडा भाई और छोटी बहन है. पिता खेती करते हैं. सचिन की फरवरी में शादी होने वाली थी. घर में शादी की तैयारियां चल रही थीं. सचिन की मंगेतर भी सिपाही है और वह सौरिख थाने में तैनात है. इस घटना के बाद सचिन के घर में कोहराम मचा हुआ है. पुलिस विभाग में सिपाही की मौत के बाद माहौल गमगीन है.