×

विदेश

DIGITAL INDIA प्रोगाम की हो रही दुनिया में चर्चा, UPI ने बनाया नया रिकार्ड

DELHI : आज देश डिजीटल इंडिया की राह पर तेजी से काम कर रहा है, भारत में शुरु हुए डिजीटल इंडिया प्रोगाम की चर्चा दुनियाभर में हो रही है. भारत का डिजीटल पेंमेट सिस्टम UPI के प्रयास से भारत के ज्यादातर लोग कैश के बदले PAYTM, Phonepe, GPay जैसे डिजीटल पेंमेट सिस्टम का इस्तेमाल कर… Continue reading DIGITAL INDIA प्रोगाम की हो रही दुनिया में चर्चा, UPI ने बनाया नया रिकार्ड

UPI Image

DELHI : आज देश डिजीटल इंडिया की राह पर तेजी से काम कर रहा है, भारत में शुरु हुए डिजीटल इंडिया प्रोगाम की चर्चा दुनियाभर में हो रही है. भारत का डिजीटल पेंमेट सिस्टम UPI के प्रयास से भारत के ज्यादातर लोग कैश के बदले PAYTM, Phonepe, GPay जैसे डिजीटल पेंमेट सिस्टम का इस्तेमाल कर पा रहे है. डिजीटल क्रांती से जहां एक तरफ लोगों को बैंक की लाइन की लंबी कतार से छुटकारा मिला है, वहीं दुसरी तरफ डिजीटल फ्राड को बढ़ावा मिला है.

UPI डिजीटल पेंमेट सिस्टम के तर्ज पर दुनिया के कई बड़े देश अपना सिस्टम तैयार कर रहे है, डिजीटल इंडिया की वजह से ये मुमकिन हो पाया है कि एक क्लिक में लाखों रुपये का राशी का भुगतान कर पाना संभव हो पाया है.

NPCI की रिपोर्ट में UPI को लेकर खुलासा

नेशनल पेंमेट कोर्पेरेशन ऑफ इंडिया ने अपने रिपोर्ट ने दिसंबर 2023 में की गई कुल यूपीआई ट्रांजैक्शन का ब्योरा दिया है. जिसमें बताया गया कि उपभोक्ताओं बीते एक महीने में कुल 18.23 लाख करोड़ रुपये का भुगतान यूपीआई के जरिए किया. जो साल 2022 के मुकाबले 54 प्रतिशत अधिक है. आंकड़ो के मुताबिक साल 2023 में कुल UPI Transaction की संख्या 100 अरब रही. अब बाजार में पैसों के लेन- देन के लिए UPI payment का इस्तेमाल व्यापक रुप में किया जा रहा है.

UPI ने बनाया नया रिकार्ड

सबसे बड़ी बात ये है कि डिजीटल पेंमेंट दर में हर महीने लगातार बढ़त देखने को मिली है. इस बार भी सारे पुराने पेमेंट रिकार्ड तोड़कर डंका बजाया है. साल 2023 में लोगों ने बढ़ चढ़ कर डिजीटल पेमेंट का उपयोग किया है.NPCI के आगे अपनी रिपोर्ट में बताया कि साल 2022 में 74 अरब यूपीआई ट्रांजेक्शन हुए थे. इन तमाम आंकड़ों ने स्पष्ट कर दिया कि आने वाले सालों में यूपीआई ट्रांजैक्शन में और बढ़ोतरी देखने को मिलेगा.

और खबरों करने के लिए यहां क्लिक करें