×

क्रिप्टोकोर्रेंसी

लोकसभा में क्रिप्टो करंसी मामले पर बोले वित्त राज्य मंत्री, 7 Case में ED की चल रही जांच

सरकार ने सोमवार को लोकसभा को सूचित किया कि प्रवर्तन निदेशालय (ED)

नई दिल्ली: सरकार ने सोमवार को लोकसभा को सूचित किया कि प्रवर्तन निदेशालय (ED) सात ऐसे मामलों की जांच कर रहा है जिनमें मनी लॉंड्रिंग (Money Laundering) के लिए क्रिप्टो करंसी (Crypto Currency) का इस्तेमाल किया गया है और उसने अभी तक अपराध से संबंधित 135 करोड़ रुपये जब्त किये हैं.

खबर में खास
  • लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा गया
  • पीएमएलए के तहत 135 करोड़ रुपये की राशि जब्त
  • क्रिप्टो करंसी खातों के जरिये मनी लॉंड्रिंग किया
लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा गया

वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा, कानून प्रवर्तन एजेंसियों ने साइबर अपराधियों द्वारा क्रिप्टो करंसी (Crypto Currency) के इस्तेमाल का मुद्दा उठाया है. मनी लॉंड्रिंग (Money Laundering) रोकथाम कानून (PMALA) के तहत ईडी जिन मामलों की जांच कर रहा है उनमें पता चलता है कि आरोपियों ने वर्चुअल मुद्रा के माध्यम से काले धन को सफेद बनाने का काम किया.

पीएमएलए के तहत 135 करोड़ रुपये की राशि जब्त

पंकज चौधरी ने कहा, प्रवर्तन निदेशालय पीएमएलए, 2002 के तहत सात मामलों में जांच कर रहा है जिनमें मनी लॉंड्रिंग (Money Laundering) के लिए क्रिप्टो करंसी (Crypto Currency) का इस्तेमाल किया गया है. मंत्री ने कहा कि ईडी ने इन मामलों में पीएमएलए के तहत 135 करोड़ रुपये की राशि जब्त की है.

क्रिप्टो करंसी खातों के जरिये मनी लॉंड्रिंग किया

इस तरह की गतिविधियों में संलिप्त लोगों की पहचान के सवाल पर चौधरी ने कहा कि अभी तक ईडी द्वारा कराई गयी जांच से खुलासा हुआ है कि कुछ विदेशी नागरिकों और उनके भारतीय सहयोगियों ने कुछ मुद्रा विनिमय प्लेटफॉर्म पर क्रिप्टो करंसी (Crypto Currency) खातों के जरिये मनी लॉंड्रिंग (Money Laundering) किया.