×

Videos

आग बबूला हुए फ्लाइट में यात्री ने की मारपीट, वीडियो वायरल

दिल्ली: इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 14 जनवरी की फ्लाइट में एक पैंसेजर ने पायलट को थप्पड़ मार दिया. पैसेंजर उड़ान में 13 घंटे से हो रही देरी से नाराज था. घटना दिल्ली से गोवा जाने वाली इंडिगो की फ्लाइट (6E-2175) की है. फ्लाइट को सुबह 7.40 पर उड़ान भरनी थी, जो कोहरे के कारण… Continue reading आग बबूला हुए फ्लाइट में यात्री ने की मारपीट, वीडियो वायरल

फ्लाइट

दिल्ली: इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 14 जनवरी की फ्लाइट में एक पैंसेजर ने पायलट को थप्पड़ मार दिया. पैसेंजर उड़ान में 13 घंटे से हो रही देरी से नाराज था. घटना दिल्ली से गोवा जाने वाली इंडिगो की फ्लाइट (6E-2175) की है. फ्लाइट को सुबह 7.40 पर उड़ान भरनी थी, जो कोहरे के कारण लेट हुई थी.

घटना का एक वीडियो सामने आया है. इसमें पीले रंग की हुडी पहने पैसेंजर सीट से उठकर पायलट के पास गया और थप्पड़ मारने के बाद कहा कि चलाना है तो चला नहीं तो खोल गेट. पैसेंजर की हरकत पर एयर होस्टेस ने कहा- सर, ये गलत है आप ऐसा नहीं कर सकते… इस पर पैसेंजर ने जवाब दिया की- मैं ऐसा क्यों नहीं कर सकता.

फ्लाइट में मौजूद लोगों ने भी पैसेंजर की हरकत का किया विरोध

हालांकि घटना के बाद फ्लाइट में मौजूद लोगों ने भी पैसेंजर की हरकत का विरोध किया. इसके बाद उसे विमान से बाहर कर सुरक्षाबलों को सौंप दिया गया.पैसेंजर की पहचान साहिल कटारिया के रूप में हुई है.इंडिगो ने उसके खिलाफ FIR दर्ज करवाई है और वह दिल्ली पुलिस की हिरासत में है. ट्रैकिंग वेबसाइट फ्लाइट अवेयर के मुताबिक, इंडिगो का विमान आखिरकार शाम 5 बजकर 33 मिनट पर गोवा के लिए उड़ान भर सका. वह डाबोलिम में शाम 7:58 बजे उतरा, उड़ान का समय 145 मिनट था.

दिल्ली में घने कोहरे की वजह से फ्लाइट हो रही लेट

इंडिगो की फ्लाइट दिल्ली में घने कोहरे की वजह से उड़ान में लगातार लेट होती रही है. सुबह से दोपहर तक फ्लाइट में देऱी शेड्यूल अनाउंस होता रहा. फ्लाइट में पायलट की अदला-बदली के चलते भी देरी हुई. दरअसल उड़ानों में फ्लाइट्स ड्यूटी टाइम लिमिटेशंस का नियम लागू होता है, यानी एक तय वक्त के बाद पायलटों को फ्लाइट उड़ाने की इजाजत नहीं होती.

क्या होती है नो फ्लाई लिस्ट ?

  • ज्यादा शराब के नशे में होने पर विमान से उतार सकती हैं एयरलाइंस
  • पैसेंजर्स के हुड़दंग मचाने पर हो सकती है कानूनी कार्रवाई
  • केबिन क्रू से दुर्व्यवहार करने पर हवाई यात्रा पर लग सकती है रोक
  • क्रू मेंबर्स और स्टाफ के काम में हस्तक्षेप करने पर एंट्री बैन
  • यात्रियों की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने पर होगी कार्रवाई
  • विमान की सुरक्षा को खतरे में डालने पर होगी गिरफ्तारी

शिकायतों से भरा पड़ा सोशल मीडिया

सोशल मीडिया उन नाराज यात्रियों की शिकायतों से भरा पड़ा है, जो घंटों तक विमानों, एयरपोर्ट और यहां तक कि एयरोब्रिज के अंदर फंसे हुए हैं.अत्यधिक देरी, खराब कस्टमर सर्विस और एयरलाइंस की गैर-जिम्मेदारी यात्रियों को परेशान कर रही है. वे सिर्फ असहाय होकर @DGCAIndia और उड्डयन मंत्री को टैग कर रहे हैं, लेकिन मंत्री, मंत्रालय और मीडिया ने चुप्पी साध रखी है.अगर कांग्रेस सरकार में होती तो इस स्थिति में 24×7 नॉन-स्टॉप मीडिया कवरेज होती.

दिल्ली एयरपोर्ट से 15 जनवरी को 168 उड़ानों में देरी हुई.. वहीं, 100 उड़ानें रद्द कर दी गई. इसके कारण अब उड़ानों में देरी का एवरेज टाइम भी 50 मिनट तक पहुंच गया है.14 जनवरी को भी दिल्ली एयरपोर्ट पर आने और जाने वाली कई उड़ानों में देरी हुई.इसके वजह उत्तर भारत में कोहरा और खराब मौसम को बताया गया.इंडिगो, स्पाइसजेट और विस्तारा जैसी प्रमुख एयरलाइन्स ने भी बताया कि दिल्ली और कोलकाता में चल रहे खराब मौसम की वजह से उड़ानें प्रभावित हो सकती हैं.

यात्री ने किया इस रवैये का विरोध

हालांकि यात्री के इस रवैये का विरोध सभी ने किया है लेकिन सोचने वाली बात ये भी है कि एयलाइंस कंपनियां अपने नियमों का जो बार-बार राग अलापती है… उन नियमों का पालन यात्रा करने वाले यात्री बखूबी करते है… लेकिन जब इन्ही नियमों का हवाला देकर यात्री एयलाइंस के कर्मचारियों से हो रही परेशानियों का जवाब मांगते हैं तो वो लोग भी टाल-मटूल में लग जाते है… एयलाइंस कंपनियों को इस तरह की परेशानियों पर यात्रियों के लिए कोई ठोस प्रबंध पर विचार करने की जरूरत है.

और पढ़े: सौरव गांगुली की बायोपिक: क्या आयुष्मान खुराना बनेंगे धाकड़ हीरो? आई नई डिटेल्स…