×

देश

मथुरा में शाही ईदगाह मस्जिद का नहीं होगा सर्वे, Supreme Court ने हाईकोर्ट के फैसले पर लगाई रोक

दिल्ली : Supreme Court ने 16 जनवरी को इलाहबाद हाईकोर्ट द्वारा मथुरा के कृष्ण जन्मभूमि मामले में निरिक्षण के लिए आयुक्त की नियुक्ति पर लिए गए पूर्व फैसले पर रोक लगा दी. अपने फैसले में जस्टिस संजीव खन्ना और दीपांकर दत्ता की संवैधानिक पीठ ने सुनवाई करते हुए अंतरीम आदेश जारी करते हुए नोटिस जारी… Continue reading मथुरा में शाही ईदगाह मस्जिद का नहीं होगा सर्वे, Supreme Court ने हाईकोर्ट के फैसले पर लगाई रोक

Supreme court

दिल्ली : Supreme Court ने 16 जनवरी को इलाहबाद हाईकोर्ट द्वारा मथुरा के कृष्ण जन्मभूमि मामले में निरिक्षण के लिए आयुक्त की नियुक्ति पर लिए गए पूर्व फैसले पर रोक लगा दी.

अपने फैसले में जस्टिस संजीव खन्ना और दीपांकर दत्ता की संवैधानिक पीठ ने सुनवाई करते हुए अंतरीम आदेश जारी करते हुए नोटिस जारी करते हुए हाईकोर्ट के नियुक्ति के फैसले पर रोक लगा दी.

बता दें कि 14 दिसंबर को शाही ईदगाह मस्जिद पक्ष की ओर से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई थी. जिसमें मांग की गई थी कि इस मामले की सर्वेक्षण के लिए आयुक्त की नियुक्ति की जाए. जिसके बाद हाईकोर्ट ने जांच के लिए आयुक्त नियुक्त करने को लेकर फैसला सुनाया था.

वकील तस्नीम अहमदी ने कोर्ट में मस्जिद का पक्ष रखते हुए तर्क दिया कि उच्च न्यायालय उस समय आदेश पारित नहीं कर सकता था जब एक आवेदन वापस मांगा गया था.

उच्च न्यायालय ने अपने फैसले में कहा कि हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाई जा रही है लेकिन बांकी कार्रवाई जारी रहेगी. गौरतलब हो कि पिछले महीने सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाने से इनकार किया था.

ईदगाह मस्जिद मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि से सटे हुए हैं. हिंदू पक्ष की ओर दावा किया जाता है कि ये मस्जिद श्री कृष्ण जन्मभूमि के प्राचीन मंदिर के ऊपर बनाई गई है. इसी वजह से हिंदू पक्ष ने अर्जी दाखिल कर मस्जिद के सर्वे की मांग की थी.

उत्तर प्रदेश के मथुरा शाही ईदगाह-कृष्ण जन्मभूमि मामले को लेकर इलाहाबाद उच्च न्यायालय में एक दर्जन से अधिक याचिका लंबित हैं. इन मामलों में हिंदू पक्ष का दावा करती है कि मस्जिद का निर्माण मुगल सम्राट औरंगजेब ने भगवान कृष्ण के जन्मस्थान के 13.37 एकड़ जमीन पर एक मंदिर को ध्वस्त करके किया था.