×

Jammu

JAMMU: राजौरी में फैल रहा आतंक, सर्च ऑपरेशन का छठा दिन

JAMMU : जम्मू कश्मीर के राजौरी-पुंछ सेक्टर में आतंकियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन छठे दिन लगातार जारी है. गौरतलब हो कि 21 दिसंबर को राजौरी में हुए आतंकी हमले में सेना के चार जवान शहीद और 3 घायल हो गए थे, और इस हमले के बाद से ही सेना लगातार आतंकियों की तलाश में जुटी… Continue reading JAMMU: राजौरी में फैल रहा आतंक, सर्च ऑपरेशन का छठा दिन

Rajauri attack
रजौरी के जंगलों में सर्च ऑपरेशन जारी

JAMMU : जम्मू कश्मीर के राजौरी-पुंछ सेक्टर में आतंकियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन छठे दिन लगातार जारी है. गौरतलब हो कि 21 दिसंबर को राजौरी में हुए आतंकी हमले में सेना के चार जवान शहीद और 3 घायल हो गए थे, और इस हमले के बाद से ही सेना लगातार आतंकियों की तलाश में जुटी है. डेरा की गली और बफलियाज के जंगलों में छिपे आतंकियों की तलाश के लिए जवानों का सर्च ऑपरेशन चला रहे हैं. आपको बता दें कि, ग्राउंड ऑपरेशन के साथ-साथ ड्रोन और हेलीकॉप्टर की मदद से राजौरी और पुंछ के घने जंगलों में आतंकियों की तलाश की जा रही है.

RAJAURI

तीसरे दिन भी मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित

:राजौरी और पुंछ जिलों में लगातार तीसरे दिन भी मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित हैं. इस बीच सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे आज जम्मू और राजौरी-पुंछ सेक्टर का दौरा करेंगे और उस जगह पर जाएंगे जहां आतंकवाद विरोधी अभियान चल रहा है.सेना प्रमुख जम्मू के नगरोटा में व्हाइट नाइट कोर मुख्यालय में सुरक्षा संबंधी एक महत्वपूर्ण बैठक की अध्यक्षता भी करेंगे. वहीं भौगोलिक तौर पर देखा जाए तो इस इलाके में कटीली झाड़ियां और बड़े-बड़े पत्थरों के बोल्डर मिल जाते हैं जो आतंकियों के लिए बड़े ढाल का काम कर रहे हैं. इसके साथ ही इस इलाके में दर्जन भर से अधिक प्राकृतिक गुफाएं भी हैं जिनमें आतंकी बड़ी घटना को अंजाम देकर या फिर घुसपैठ करके छुप जाते हैं जो कि इन दिनों सुरक्षाबलों के लिए एक टेढ़ी खीर बना हुआ है. बता दें कि 21 दिसंबर की शाम करीब पौने 4 बजे राजौरी/पुंछ के सुरनकोट उपखंड में डेरा की गली और बुफलियाज के बीच घने वन क्षेत्रों में दानार सवानिया मोड़ पर आतंकवादियों ने घात लगाकर सेना के दो वाहनों पर हमला कर दिया था, जिसमें 4 जवान शहीद हो गए और तीन घायल हैं. हमले की चपेट में आए सेना के वाहन एक ऑपरेशन के लिए जा रहे थे, जो इलाके में संदिग्ध गतिविधि की रिपोर्ट के बाद गुरुवार सुबह शुरू किया गया था. इलाके की हवाई निगरानी के बीच सेना ने जमीनी तलाशी अभियान तेज कर दिया है.

आतंक के सिस्टम को नष्ट करने के लिए एक बड़ा अभियान शुरू

सूत्रों के मुताबिक सुरक्षा बल राजौरी-पुंछ में सक्रिय आतंकियों के सिस्टम को नष्ट करने का अभियान शुरू करने जा रहे हैं. और इस बीच सेना ने 3 नागरिकों की हत्या की आंतरिक जांच के आदेश दे दिए हैं.सूत्रों के मुताबिक, सेना कुछ अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई पर विचार कर रही है. सेना वर्तमान में पुंछ-राजौरी में तैनात कुछ अधिकारियों का ट्रांसफर कर सकती है. पुंछ पुलिस ने नागरिकों की हत्या मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है.5 अन्य घायल नागरिकों का पुंछ-राजौरी सेक्टर के विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है.