×

जीवन शैली

Husband Wife Relationship : विवाद होने पर पति-पत्नी नहीं करें ये 2 गलतियां

Husband Wife Relationship : मनोवैज्ञानिकों का कहना है कि हालात पर काबू पाना है तो मन को शांत रखना होगा और एक दूसरे को तवज्जो देते हुए अपनी बात रखनी होगी.

Husband and wife should not make these 2 mistakes in case of dispute
Husband and wife should not make these 2 mistakes in case of dispute

Husband Wife Relationship : व्यस्तता, मोबाइल फोन का अधिक इस्तेमाल और खराब जीवनशैली का असर पति-पत्नी के रिश्तों पर भी पड़ रहा है. कामकाजी पति-पत्नी जरा-जरा सी बात पर एक-दूसरे पर गुस्सा और नाराज हो रहे हैं. यह स्थिति को पति-पत्नी के रिश्तों का बेहद खराब बना देती है. मनोवैज्ञानिकों का कहना है कि हालात पर काबू पाना है तो मन को शांत रखना होगा और एक दूसरे को तवज्जो देते हुए अपनी बात रखनी होगी.

टकराता है अहम

21 सदी में पुरुषों और महिलाओं के बीच बराबरी का माहौल है. महिलाएं भी आज उसी मुकाम पर हैं जहां पर कभी सिर्फ पुरुषों का वर्चस्व था. ऐसे में कई बार पुरुष का अहम टकरारा है तो महिलाओं के सम्मान को चोट पहुंचती है. ऐसे पति या फिर पत्नी, गुस्से में बोली गई सामान्य बात भी रिश्तों में टकराव को बढ़ावा देती है. ऐसे में स्थिति कभी-कभार घरेलू हिंसा का भी मामला भी सामने आ जाता है.

यह भी पढ़ें: इंडियन नेवी के 8 पूर्व नौसैनिकों को कतर ने किया रिहा, नरेन्द्र मोदी सरकार ने फैसले का किया स्वागत

दोनों ठहराते हैं एक-दूसरे को जिम्मेदार

मामूली सी बात पर एक-दूसरे से भिड़ने वाले पति-पत्नी एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहराते हैं. इस दौरान एक-दूसरे की कमियां निकालने लगते हैं, जिसके बाद हालात सुधरने की बजाय बिगड़ते चले जाते हैं. इस दौरान पति-पत्नी एक-दूसरे के गुस्से का भड़काने का काम भी करते हैं. ऐसा हर किसी के साथ नहीं होता है. कुछ पति-पत्नी हालात को संभाल भी लेते हैं और रिश्ते को मधुर बना लेते हैं.

शांत मन से सुलझा सकते हैं विवाद

मनोवैज्ञानिकों का कहना है कि पति-पत्नी का रिश्ता बेहद नाजुक होता है. पति अगर गर्म मिजाज का हो तो पत्नी को शांति से काम लेना चाहिए. यही सलाह पति के लिए भी है. इसी तरह एक-दूसरे की कमियां निकालने से बचें, क्योंकि इससे बात बिगड़ जाती है. अगर बात करनी भी हो तो गुस्सा शांत हो जाने पर करें. चाहे पति या फिर पत्नी, झगड़ा होने के दौरान एक-दूसरे से घर छोड़कर जाने अथवा आत्महत्या करने जैसी धमकियां कतई नहीं दें.

यह भी पढ़ें: Kisan Andolan: दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर क्या फिर से होगा किसान आंदेलन? 1200 जवानों ने संभाला मोर्चा