×

MAHARASTRA

Test Tube Baby: एक ही अस्पताल में पैदा हुए बाप-बेटे, 30 साल पहले हुआ था ‘लव’

Test Tube Baby: 30 साल पहले मुंबई के अस्पताल में जन्मे टेस्ट 'ट्यूब बेबी' लव की पत्नी ने उसी अस्पताल में टेस्ट ट्यूब से बेटे को जन्म दिया.

Test Tube Baby: Miracle happened in India Father and son born together in Mumbai hospital
Test Tube Baby: Miracle happened in India Father and son born together in Mumbai hospital

Test Tube Baby: 30 साल पहले चेंबूर के एक कपल ने मुंबई के अस्पताल में टेस्ट ट्यूब बेबी को जन्म दिया था। अब वह ‘टेस्ट ट्यूब बेबी’ लव सिंह भी पिता बन गए हैं। जानकारी के मुताबिक लव सिंह की पत्नी हरलीन कौर ने उसी अस्पताल में बच्चे को जन्म दिया है जिसमें लव का जन्म हुआ था।

Test Tube Baby: हर्षा चावड़ा शाह का हुआ था जन्म

जानकारी के मुताबिक लव के माता-पिता चेंबूर के रहने वाले थे। उन्होंने मुंबई के जसलोक अस्पताल में टेस्ट ट्यूब तकनीक की मदद से लव को जन्म दिया था। उस सयम यह तकनीक काफी नई थी। आठ साल पहले टेस्ट ट्यूब तकनीक से हर्षा चावड़ा शाह का जन्म हो चुका था। हालांकि लव का जन्म इंट्रासाइटोप्लाज्मिक स्पर्म इंजेक्शन (ICSI) से कराया गया जो कि और एडवांस तकनीक थी। 

इस दौरान, डॉ. फिरोजा पारिख ने इंट्रासाइटोप्लाज्मिक स्पर्म इंजेक्शन (ICSI) तकनीक का इस्तेमाल किया, जो एक और एडवांस तकनीक है। डॉ. पारिख की देखरेख में पहले ही इस तकनीक से जन्म हो चुका था, जिसने इस क्षेत्र में एक नई मिसाल स्थापित की थी।

test-tube-baby टेस्ट ट्यूब तकनीक से दिया जन्म

लव सिंह की पत्नी का गर्भधारण प्राकृतिक था, लेकिन उन्होंने चाहा कि उनका बच्चा उनकी देखरेख में ही पैदा हो। इसके लिए उन्होंने टेस्ट ट्यूब तकनीक का सहारा लिया और इस राह में सफलता प्राप्त की। इस खास पल की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि उनकी पत्नी को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है।

यह भी पढ़ें: घर बैठे मिलेगा जबरदस्त एंटरटेनमेंट, ये 5 फिल्में आपको हंसा-हंसाकर कर देंगी लोटपोट; फिर न कहना बताया नहीं था

साल 2016 में देश में पहली टेस्ट ट्यूब बेबी, हर्षा चावड़ा, भी इसी अस्पताल में जन्म हुई थी। इससे साफ है कि टेस्ट ट्यूब तकनीक ने लाखों जोड़ियों को संतान प्राप्त करने में मदद की है और इसका प्रभाव भारतीय समाज में बढ़ रहा है।