×

राजनीति

Bharat Ratna Lal Krishna Advani ने किस स्कूल से की है पढ़ाई? हमेशा आते थे फर्स्ट; मिलती थी टीचर्स से तारीफ

Bharat Ratna Lal Krishna Advani ने शुरुआती शिक्षा कराची के सेंट पैट्रिक हाई स्कूल से ही ग्रहण की है. इसके बाद की शिक्षा हैदराबाद से की.

Bharat Ratna Lal Krishna Advani studied from which school in Pakistan
Bharat Ratna Lal Krishna Advani studied from which school in Pakistan

Bharat Ratna Lal Krishna Advani: भारतीय राजनीति के दिग्गज नेता और देश के पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी को भारत रत्न मिलेगा. इसकी जानकारी खुद शनिवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोशल मीडिया एक्स पर शेयर की थी और उन्होंने इसके लिए बधाई भी दी थी. भारतीय राजनीति में अपनी खास पहचान बनाने वाले लाल कृष्ण आडवाणी ने कराची (पाकिस्तान) के नामी स्कूल सेंट पैट्रिक्स से पढ़ाई की है. यहां पर हम बता रहे हैं कि किन और दिग्गज हस्तियों ने यहां से पढ़ाई कर देश-दुनिया में अपना नाम कमाया है.

इस स्कूल से पढ़ाई करने वाले दो लोग बने पीएम

कराची के नामी स्कूल सेंट पैट्रिक्स से पढ़ाई करने वाले कई लोगों ने देश दुनिया में नाम कमाया है. भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने भी इस स्कूल से पढ़ाई की है. वह न केवल केंद्र सरकार में केंद्रीय गृहमंत्री रहे, बल्कि उन्हें अटल बिहारी वाजपेयी सरकार उपप्रधानमंत्री भी बनाया गया. इसी तरह इस स्कूल से शिक्षा ग्रहण करने वाले राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ पाकिस्तान के राष्ट्रपति बने. इसके अलावा इसी स्कूल से निकले अन्य तीन लोगोें में एक पीएम तो एक राष्ट्रपति भी बना.

उद्यमी परिवार में हुआ जन्म

1927 को जन्में लालकृष्ण आडवाणी का संबंध हिंदू सिंधी परिवार है. पिता का नाम किशनचंद आडवाणी और मां का नाम ज्ञानी देवी था. पिता पेशे से एक उद्यमी थे. लाल कृष्ण आडवाणी ने शुरुआती शिक्षा कराची के सेंट पैट्रिक हाई स्कूल से ही ग्रहण की थी. इसके बाद की शिक्षा उन्होंने हैदराबाद में डीजी नेशनल स्कूल से पूरी की. विभाजन के समय उनका परिवार पाकिस्तान छोड़कर मुंबई आकर बस गया. उच्च शिक्षा की कड़ी में उन्होंने यहां के लॉ कॉलेज ऑफ द बॉम्बे यूनिवर्सिटी से कानून की पढ़ाई की.

यह भी पढ़ें: CM Yogi का सोशल मीडिया X पर जलवा, फॉलोवर्स के मामले में बने भारत के नंबर-1 CM

कार्यकर्ता से उप प्रधानमंत्री तक का सफर

वर्ष 1942 में लाल कृष्ण आडवाणी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) को ज्वाइन किया. इसके बाद 1947 में वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सचिव और 1970 में पहली बार राज्यसभा के सांसद बने. लाल कृष्ण आडवाणी ने कई राजनीतिक व अन्य यात्राएं अपने जीवन में निकालीं. इन यात्राओं ने उन्हें राजनैतिक रूप से मजबूती दी. उन्होंने राम रथ यात्रा, जनादेश यात्रा, भारत सुरक्षा यात्रा, स्वर्ण जयंती रथ यात्रा और भारत उदय यात्रा निकालकर भारतीय राजनीति की दिशा ही बदल दी.

यह भी पढ़ें: Paytm Payment Bank: पेटीएम पर RBI की कार्रवाई से किसको हो रहा लाभ? किसकी बढ़ी मुश्किल?