×

राज्य

Bihar Budget 2024 : कुछ देर बाद चल जाएगा पता, बिहार की जनता को बजट में क्या-क्या मिलेगा?

Bihar Budget 2024-25: बिहार के बजट में लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर कई अहम एलान किए जा सकते हैं. बजट में शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार पर विशेष जोर रहने की बात कही जा रही है.

Bihar government presented the Bihar Budget 2023-24 in the state assembly
Bihar government presented the Bihar Budget 2023-24 in the state assembly

Bihar Budget 2024-25: बिहार विधानसभा के बजट सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को उपमुख्यमंत्री और वित्त मंत्री सम्राट चौधरी बिहार बजट 2024-25 पेश करेंगे. इससे पहले सोमवार को वित्त मंत्री सम्राट चौधरी बजट सत्र के पहले दिन नीतीश सरकार द्वारा विश्वास मत हासिल करने के बाद बिहार आर्थिक सर्वेक्षण 2023-24 पेश किया था. अब बारी बजट 2024 की है.  मिली जानकारी के अनुसार, इस बार बिहार का बजट 3 लाख करोड़ रुपये का हो सकता है. 

आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट के आधार पर जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक, मौजूदा कीमतों पर बिहार में प्रति व्यक्ति आय 59,637 रुपये प्रति वर्ष होने का अनुमान है. पिछले वर्ष की तुलना की तुलना करें तो आर्थिक सर्वेक्षण में कुल 13.9 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

शिक्षा-रोजगार पर रहेगा जोर

जानकारों की मानें तो बिहार के बजट में लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर कई अहम एलान किए जा सकते हैं. इसके साथ ही बजट में शिक्षा और रोजगार पर विशेष ध्यान देने के अलावा स्वास्थ्य समेत अन्य जनता से जुड़ी समस्याओं पर विशेष ध्यान दिए जाने की उम्मीद जताई जा रही है.

विश्वास मत के खिलाफ कोई मत नहीं पड़ा

यहां पर बता दें कि नीतीश कुमार ने सोमवार बजट सत्र के पहले दिन ध्वनिमत से विश्‍वास मत हासिल किया, क्योंकि विपक्ष ने सदन से वॉकआउट कर दिया था. विश्वास प्रस्ताव के बाद सरकार के पक्ष में 129 तो विपक्ष में 0 वोट पड़े. वहीं, राष्ट्रीय जनता दल के तीन विधायक चेतन आनंद, नीलम देवी और प्रह्लाद यादव सोमवार को बजट सत्र शुरू होते ही सत्ता पक्ष में बैठ गए. इसका बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्‍वी यादव ने जमकर विरोध किया.

यह भी पढ़ें: Priyanka Gandhi Fight Lok Sabha Elections: क्या जीवन का पहला चुनाव रायबरेली से लड़ेंगी प्रियंका गांधी?

JDU से सिर्फ दिलीप राय नहीं आए सदन में

उधर, भारतीय जनता पार्टी के तीन विधायक भी सदन में नहीं पहुंचे, तो जेडीयू के भी तीन विधायक भी विधानसभा में नहीं आए. वहीं, दोपहर ढाई बजे तक सभी विधायक सदन में पहुंंच गए थे, केवल जेडीयू के MLA दिलीप राय नहीं पहुंचे. इससे सरकार पर कोई असर नहीं पड़ा, क्योंकि विश्वास प्रस्ताव पर मतदान से पहले ही सदन से कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल समेत समूचा विपक्ष वॉक आउट कर गया.

यह भी पढ़ें: Kisan Andolan 2024: 3 राज्यों से दिल्ली आ रहे किसान, घर से निकलने से पहले जरूर पढ़ लें यह खबर वरना होंगे परेशान