×

राज्य

राजस्थान कांग्रेस संकट: अशोक गहलोत को मिली क्लीन चिट, वफादारों पर गिर सकती है गाज

राजस्थान संकट के लिए बनाए पर्यवेक्षकों ने सोनिया गांधी को तकनीकि तौर पर रिपोर्ट सौंप दी है. इस रिपोर्ट अशोक गहलोत को क्लीन चिट की बात सामने आई है. रिपोर्ट में पर्यवेक्षकों ने उन्हें राजस्थान घटनाक्रम के लिए कही भी जिम्मेदार नहीं बताया है.

नई दिल्ली. राजस्थान कांग्रेस संकट (Rajasthan Congress crisis) पर दोनों पर्यवेक्षकों मल्लिकार्जुन खड़गे और अजय माकन ने 9 पन्नों की लिखित रिपोर्ट पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को सौंपी दी है. पर्यवेक्षकी की रिपोर्ट में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को क्लीन चिट मिल गई है. रिपोर्ट में गहलोत के वफादार मंत्री शांति धारीवाल, प्रताप सिंह खाचरियावास के खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की गई है. इसके अलावा गहलोत गुट के कुछ नेताओं पर एक्शन लेने का रिपोर्ट में जिक्र किया गया है.इस खबर में ये है खास-

  • गहलोत घटनाक्रम के लिए जिम्मेदार नहींराजस्थान कांग्रेस में पैदा हुआ संकटपायलट को CM बनाने का हो रहा विरोधगहलोत गुट ने अजय माकन पर लगाया आरोप

गहलोत घटनाक्रम के लिए जिम्मेदार नहींराजस्थान संकट (Rajasthan Congress Crisis) के लिए बनाए पर्यवेक्षकों ने सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को तकनीकि तौर पर रिपोर्ट सौंप दी है. इस रिपोर्ट अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को क्लीन चिट की बात सामने आई है. रिपोर्ट में पर्यवेक्षकों ने उन्हें राजस्थान घटनाक्रम के लिए कही भी जिम्मेदार नहीं बताया है. अपनी 9 पन्नों की रिपोर्ट में घटनाक्रम के बारे में बताया है. साथ ही गहलोत गुट के कुछ वफादारों पर कार्रवाई की अनुशंसा भी की है.राजस्थान कांग्रेस में पैदा हुआ संकट

दरअसल में राजस्थान कांग्रेस संकट का उदय उस वक्त हुआ, जब नए सीएम पर चर्चा करने के लिए सीएम आवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक आयोजित की गई थी. इस बैठक में राजस्थान के लिए पर्यवेक्षक बनाए गए मल्लिकार्जुन खड़गे और अजय माकन भी शामिल होने वाले थे, हालांकि कांग्रेस विधायक दल की बैठक से इतर गहलोत के मंत्री शांति धारिवाल के घर पर विधायकों की बैठक हुई.

पायलट को CM बनाने का हो रहा विरोध

शांति धारीवाल के घर पर बैठक के बाद गहलोत गुट 92 विधायकों ने इस्तीफा दिया और अपना इस्तीफा विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी को सौंपने के लिए उनके घर पर जा पहुंचे. उधर सीएम आवास पर होने वाली कांग्रेस विधायक दल की बैठक रद्द हो गई. बता दें कि गहलोत गुट के विधायक सचिन पायलट को राजस्थान का मुख्यमंत्री बनाने का विरोध कर रहे थे.

गहलोत गुट ने अजय माकन पर लगाया आरोप

गहलोत गुट के विधायकों का कहना है कि नए सीएम के चयन में उनकी अनदेखी की गई. गहलोत के मंत्री शांति धारीवाल ने तो सोमवार को दिल्ली से भेजे गए पर्यवेक्षकों पर ही सवाल खड़ा कर दिया. धारीवाल ने अजय माकन पर निशाना साधते हुए कहा कि अशोक गहलोत को CM पद से हटाने की 100 फीसदी साजिश थी और प्रभारी महासचिव इसका हिस्सा थे.