×

राज्य

यूपीः सिद्धार्थनगर में बाढ़ से जनजीवन अस्त-व्यस्त, राप्ती नदी का बांध टूटा, कई गांवों में भरा पानी

लगातार एक सप्ताह से हो रही मूसलाधार बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है. जिससे कई गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है. भारी बारिश से जन-जीवन काफी अस्त-व्यस्त हो गया है.

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात है. लगातार एक सप्ताह से हो रही मूसलाधार बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है. जिससे कई गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है. भारी बारिश से जन-जीवन काफी अस्त-व्यस्त हो गया है. भारी बारिश के कारण राप्ती नदी पर बना बांध टूट चुका है. जिसके कारण नदी के इर्द-गिर्द बसे दर्जनों गांव का संपर्क मुख्य मार्ग से देर रात टूट गया है.

लोग सुरक्षित ठिकाना खोज रहे

सिद्धार्थनगर में राप्ती नदी की कटान लोगों की नींद उड़ा रही है. कई गांवों का सड़कों से संपर्क टूट चुका है. अब लोगों के पास नाव ही एकमात्र सहारा बचा है. राप्ती नदी का पानी गांव में भर रहा है और लोग नाव के सहारे सुरक्षित ठिकाना खोज रहे हैं. लोगों के अनुसार हाल ही में बांध बांधने का काम हुआ था जिसमें घोर अनियमिता बरती गई, जिससे बांध टूट गया है. लोगों ने प्रशासन पर मदद नहीं करने का आरोप लगाया है.

तेज बहाव में बहा पूरा परिवार

बाढ़ से हालात काफी भयावह हो चुके हैं. नदी के पानी का बहाव काफी तेज है. नदी के सामने जो भी आ रहा है, वो उसमें समाता जा रहा है. ढेबरुआ-इटवा मार्ग पर बिगौवा नाले के पास बुधवार को एक रिक्शेवाले का पूरा परिवार बह गया. रिक्शा चालक नरेंद्र, उसकी पत्नी और 2 बच्चे तेज बहाव में बह गए. बुधवार देर रात तक भी इनका पता नहीं चला है. घटना के 24 घंटे बाद भी चारों लोगों का पता नहीं चल पाया है.