×

देश

गुजरात में निवेशकों का ‘महाकुंभ’, वाइब्रेंट गुजरात का महाआगाज

गांधीनगर : वाइब्रेंट गुजरात समिट राजधानी गांधीनगर में आज से शुरू हो गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसका उद्घाटन किया. यह समिट गांधीनगर में महात्मा मंदिर कन्वेंशन सेंटर में हो रहा है. 10 से 12 जनवरी तक सम्मेलन के 10वें संस्करण का आयोजन किया जा रहा है. कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने वसुधैव… Continue reading गुजरात में निवेशकों का ‘महाकुंभ’, वाइब्रेंट गुजरात का महाआगाज

गुजरात PM MODI

गांधीनगर : वाइब्रेंट गुजरात समिट राजधानी गांधीनगर में आज से शुरू हो गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसका उद्घाटन किया. यह समिट गांधीनगर में महात्मा मंदिर कन्वेंशन सेंटर में हो रहा है. 10 से 12 जनवरी तक सम्मेलन के 10वें संस्करण का आयोजन किया जा रहा है. कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने वसुधैव कुटुम्बकम् कहकर मेहमानों का स्वागत किया. पीएम मोदी का कहना है कि वाइब्रेंट ग्लोबल समिट आत्मनिर्भर भारत के लिए समृद्ध गुजरात की परिकल्पना के साथ नई ऊंचाइयां हासिल करता रहेगा.

वाइब्रेंट गुजरात समिट में हिस्सा लेंगे यूएई के राष्ट्रपति शेख मोहम्मद

वाइब्रेंट गुजरात समिट में इस साल के सम्मेलन का विषय गेटवे टू द फ्यूचर है…सम्मेलन में 34 देश और 16 संगठन शामिल हो रहे है. यूएई के राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान 9 जनवरी को ‘वाइब्रेंट गुजरात समिट’ में मुख्य अतिथि के रूप में हिस्सा लेने भारत आए हैं. साथ ही दुबई में COP28 शिखर सम्मेलन में पीएम मोदी की यात्रा के बाद वाइब्रेंट गुजरात समिट में भारत और संयुक्त अरब अमीरात यानी की (यूएई) के बीच संबंध मजबूत होने की भी उम्मीद है.

गुजरात ग्लोबल समिट का थीम ‘गेटवे टू द फ्यूचर’ है

यह संस्करण ‘वाइब्रेंट गुजरात के 20 सालों की सफलता के शिखर के रूप में’ मनाएगा.आयोजन का उद्देश्य व्यापारिक नेताओं, निवेशकों, विचारकों, नीति और राय निर्माताओं को एक साथ लाना है.वाइब्रेंट गुजरात समिट की वेबसाइट का दावा है कि इस बार 50 हजार से ज्यादा कंपनियों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया.

पीएम मोदी ने वाइब्रेंट ग्लोबल समिट में शामिल होने आए तमाम देशों का धन्यवाद किया है. उन्होंने इस मौके पर कहा कि हमने लक्ष्य रखा है कि जब भारत अपनी आजादी के 100 साल मानएगा तब तक यह विकासशील नहीं बल्कि एक विकसित देश होगा.और आज से कुछ समय पहले भारत विश्व की पांचवें नवंबर की अर्थव्यवस्था थी लेकिन आने वाले दिनों में अब भारत विश्व की तीसरे नंबर की अर्थव्यवस्था हो जाएगी और ये मोदी की गारंटी है.

वाइब्रेंट समिट को लेकर गुजरात को दुल्हन की तरह सजाया गया है, वहीं दूसरी तरफ इतने बड़े सम्मेलन को लेकर सुरक्षा व्यवस्था भी सख्त रखी गई है. इस कार्यक्रम में कई देश शामिल हो रहे है और पीएम मोदी ने खुले मंच से ऐलान कर दिया है कि आने वाले समय में भारत दुनिया में अपनी एक मजबूत पहचान बनाकर उभरेगा.