×

Uttar Pradesh

यूपी: गणतंत्र दिवस पर CM योगी ने फहराया राष्ट्रीय ध्वज, बोले- ये भारतीय गणतंत्र का अमृत काल

लखनऊ: 75वें गणतंत्र दिवस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने अपने सरकारी आवास पर तिरंगा फहराया. इस दौरान अपने संबोधन में उन्होंने प्रदेशवासियों को गणतंत्र दिवस की बधाई देते हुए कहा कि भारत ने आजादी की अपनी एक लंबी लड़ाई के उपरांत स्वतंत्र भारत में अपना स्वयं का संविधान लागू किया. 2022 में आजादी… Continue reading यूपी: गणतंत्र दिवस पर CM योगी ने फहराया राष्ट्रीय ध्वज, बोले- ये भारतीय गणतंत्र का अमृत काल

लखनऊ: 75वें गणतंत्र दिवस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने अपने सरकारी आवास पर तिरंगा फहराया. इस दौरान अपने संबोधन में उन्होंने प्रदेशवासियों को गणतंत्र दिवस की बधाई देते हुए कहा कि भारत ने आजादी की अपनी एक लंबी लड़ाई के उपरांत स्वतंत्र भारत में अपना स्वयं का संविधान लागू किया. 2022 में आजादी का अमृत महोत्सव मनाने के बाद इस वर्ष हम सब अपने गणतंत्र का अमृत वर्ष मना रहे हैं.

सीएम ने कहा कि भारत के महान स्वतंत्रता सेनानियों, संविधानविदों और विशेषज्ञों के अनुसार हमने देश में संविधान लागू किया, जो पिछले 74 वर्षों से भारत में जाति, धर्म, संप्रदाय, क्षेत्र या अन्य तमाम अवरोधों को समाप्त करते हुए पूरी तरह कसौटी पर खरा उतरा है.

हमारा संविधान भेदभाव नहीं करता
सीएम योगी ने कहा कि दुनिया के अंदर आधुनिक लोकतंत्र के रूप में स्थापित अन्य तमाम देश जो अपने को सबसे प्रगतिशील मानते हैं, उन्होंने लंबे समय तक लिंग भेद के आधार पर महिलाओं को मताधिकार से वंचित किया था. तमाम दबी कुचली परंपराओं को समाज और राष्ट्र की मुख्यधारा से अलग किया था, लेकिन यह भारत के संविधान की महानता है कि भारत दुनिया का वो देश है, जिसने संविधान लागू करने के साथ ही इस बातों को सुनिश्चित किया था कि देश के अंदर लिंग, जाति, मत-मजहब, क्षेत्र के आधार पर किसी भी प्रकार का कोई भेदभाव नहीं होगा. देश में प्रत्येक वयस्क मतदाता को अपना मताधिकार करने का पूरा अधिकार है.

उज्ज्वल भविष्य की ओर बढ़ना है
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज ही के दिन 1950 में भारत ने आजादी की लंबी लड़ाई के उपरांत हमने अपना स्वयं का संविधान लागू किया था. यह दुनिया का सबसे बड़ा संविधान है. हमारा संविधान अनेक उपलब्धियों से भरा है. ये हमें अधिकार देता है तो हमारे कर्तव्यों के प्रति हमें आग्रही भी बनाता है. अगर हम अपने कर्तव्यों का ईमानदारी पूर्वक निर्वहन करते हैं अगले 25 वर्ष में हमारा देश एक विकसित भारत होगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें अपने देश के अतीत पर गौरव और वर्तमान को सुंदर व सुखद बनाते हुए उज्ज्वल भविष्य की ओर बढ़ना है.

हमारा संविधान हमारे लिए सर्वोपरि
उन्होंने कहा कि हमारा संविधान हमारे लिए सर्वोपरि है. ये हमें आग्रही बनाता है कि हर कार्य देश के नाम होना चाहिए. दुनिया के इस सबसे प्राचीनतम राष्ट्र के प्रति हम अपने संविधान के जरिए श्रद्धा का भाव प्रकट करते हैं. सीएम योगी ने इस अवसर पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, संविधान सभा के अध्यक्ष डॉ राजेन्द्र प्रसाद और संविधान शिल्पी बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर को भी नमन किया. उन्होंने कहा कि ये विभूतियां हम सबके लिए प्रेरणादायी हैं.

ये भी पढ़ें: बिना रुके, बिना डिगे, बिना झुके हमें विकसित भारत को आगे बढ़ाना है, बुलंदशहर में बोले योगी