×

Uttar Pradesh

बिहार में नीतीश कुमार को खोने के बाद अब यूपी से कांग्रेस के लिए आ सकती है बुरी खबर, क्या जयंत चौधरी होंगे अलग?

Lok Sabha Chunav 2024: भारतीय जनता पार्टी ने राष्ट्रीय लोक दल को लोकसभा चुनाव के मद्देनजर 5 सीटों का ऑफर दिया है. जिस पर सहमति बन सकती है.

Rashtriya Lok Dal chief Jayant Chaudhary break the alliance with Samajwadi Party
Rashtriya Lok Dal chief Jayant Chaudhary break the alliance with Samajwadi Party

Lok Sabha Chunav 2024: केंद्र में सत्तासीन नरेन्द्र मोदी सरकार के खिलाफ बने I.N.D.I.A. गठबंधन में लगातार दरार की खबरें सामने आ रही हैं. ताजा मामला उत्तर प्रदेश से जुड़ा है. यहां पर राष्ट्रीय लोक दल प्रमुख जयंत चौधरी (Rashtriya Lok Dal chief Jayant Chaudhary) के भी I.N.D.I.A. से दूरी बनाने की खबरें सामने आ रही हैं. यह भी जानकारी सामने आ रही है कि भारतीय जनता पार्टी ने राष्ट्रीय लोक दल को लोकसभा चुनाव के मद्देनजर 5 सीटों का ऑफर दिया है. इसके साथ ही यह भी आश्वासन दिया है कि इस पांचों सीटों पर रालोद की जीत सुनिश्चित है.

क्या अब जयंत की उपेक्षा कर रही कांग्रेस?

बताया जा रहा है कि भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल के बीच करीबी बढ़ रही है. इसका एक और कारण यह है कि कांग्रेस ने भारत जोड़ो न्याय यात्रा में समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव को तो बुलाया है, लेकिन रालोद प्रमुख जयंत चौधरी की उपेक्षा की गई है. खबर यह भी है कि इससे जयंत चौधरी नाराज भी हैं.

क्या भाजपा-रालोद में बन गई बात?

सूत्रों के अनुसार, भाजपा कई महीनों से रालोद से गठबंधन की कोशिश कर रही है. इसके लिए एक नेता के जरिये बातचीत भी चल रही है. ताजा खबर यह है कि अब पहल रालोद की ओर से हुई है और उसने ही भाजपा के एक बड़े नेता के जरिए संपर्क साधा है. यह भी जानकारी सामने आई है कि जयंत चौधरी के भाजपा के कुछ बड़े नेताओं से मुलाकात भी हो चुकी है, जो गठबंधन को फाइनल करने में अहम भूमिका निभाएंगे.

5 सीटों पर मान सकते हैं जयंत

बताया जा रहा है कि जयंत चौधरी ने भारतीय जनता पार्टी के सामने कुल 7 सीटों का प्रस्ताव रखा था, लेकिन भाजपा 5 सीटें देने की इच्छुक है. उधर, रालोद के नेताओं की मानें तो लोकसभा की चार और राज्यसभा की एक सीट पर बात तय हो गई है. जिन सीटों पर भाजपा-रालोद में सहमति बनी है, उनमें कैराना, मथुरा, बागपत और अमरोहा लोकसभा सीटें हैं. गठबंधन की शर्तों में यह भी तय हुआ कि यूपी सरकार के विस्तार में भी रालोद का एक मंत्री बनाया जा सकता है.

यह भी पढ़ें: Amethi News: कौन है उत्तर प्रदेश का पिंकू, जिसकी मां रोती रही और वह बजाता रहा सारंगी; पूरा गांव हुआ भावुक

12 को पीएम मोदी को बुलाने की तैयारी में रालोद

उधर, ताजा जानकारी यह है कि रालोद मुखिया जयंत चौधरी ने आगामी 12 फरवरी को बागपत के छपरौली में होने वाले स्व. चौधरी अजित सिंह की प्रतिमा के अनावरण का कार्यक्रम रद कर दिया है. यह भी खब आ रही है कि इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बुलाने की कवायद है और इसके लिए पीएम का समय मांगा गया है. अगर इस आयोजन में पीएम मोदी आए तो रालोद और सपा की जुदाई तय है.

यह भी पढ़ें: Weather Update : दिल्ली-एनसीआर को कब मिलेगी ठंड से राहत? सामने आया IMD का ताजा अपडेट