×

Uttar Pradesh

राज्यसभा चुनाव: UP में 10 सीटों में से 7 पर BJP का जीत पक्की, समाजवादी पार्टी को 3 की उम्मीद

राज्यसभा चुनाव: राज्यसभा चुनाव में भाजपा और सपा दोनों ही बड़े दलों के बीच टक्कर की उम्मीद है. यूपी में 10 सीटों के लिए 27 फरवरी को मतदान होगा.

Rajya Sabha Elections: राज्यसभा की खाली हुई सीटों के लिए होने वाले मतदान में उत्तर प्रदेश में हलचल है. इस चुनाव में भाजपा और सपा दोनों ही बड़े दलों के बीच टक्कर की उम्मीद है। यूपी में 10 सीटों के लिए 27 फरवरी को मतदान होगा. 15 फरवरी नामांकन कराने की अंतिम तारीख है.

सपा के पास 117 विधायकों के साथ 3 सीटें

विधानसभा में विधायकों की मौजूदा संख्या 399 है, जिससे एक प्रत्याशी की जीत के लिए कम से कम 37 विधायकों का समर्थन आवश्यक है. इसमें भाजपा के 252 सदस्य शामिल हैं, जबकि सपा के पास 108 विधायक हैं. अब तक की स्थिति में भाजपा को 7 सीटों की जीत तय है, जबकि सपा के पास 117 विधायकों के साथ 3 सीटें हासिल करने की संभावना है.

भाजपा की जीत संभावना

चुनाव अधिकारी व विशेष सचिव विधानसभा ब्रज भूषण दुबे का कहना है कि मौजूदा संख्या 399 होने के बावजूद, एक प्रत्याशी को कम से कम 37 विधायकों का समर्थन चाहिए. वर्तमान में भाजपा के साथ गठबंधन में और भी सदस्य शामिल हैं, जिससे उनकी जीत की संभावना मजबूत है.

यह चुनाव उत्तर प्रदेश के राजनीतिक मंच पर एक महत्वपूर्ण मोड़ बना हुआ है, और दोनों प्रमुख दलों के बीच टक्कर को लेकर राजनीतिक गतिविधियों में उत्साह बढ़ा है. इस चुनाव से पहले नामांकन करने की आखिरी तारीख 15 फरवरी है, और इसके बाद 20 फरवरी तक नामांकन वापस लिए जा सकेगा.

इस चुनाव के परिणाम का सीधा असर राज्यसभा की नीति और निर्णयों पर होगा, जिससे राज्य के नेतृत्व में बदलाव हो सकता है. उत्तर प्रदेश के इस चुनाव से संघर्ष की दिशा और दलों की सामरिक रणनीतियों में बदलाव की संभावना है.

समाजवादी पार्टी के पास 108 और आरएलडी के पास 9 विधायक हैं। ऐसे में 117 विधायकों के साथ सपा 3 सीट सीटें निकाल सकती है. कांग्रेस से गठबंधन की वजह से 2 वोट भी सपा के खेमे में जाने की उम्मीद है.

2 अप्रैल 2024 को इन सदस्यों का खत्म होगा कार्यकाल

अनिल अग्रवाल, अशोक वाजपेई, अनिल जैन, कांता कर्दम, सकलदीप राजभर, जीवीएल नरसिम्हा राव, विजयपाल तोमर, सुधांशु त्रिवेदी, हरनाथ सिंह यादव और सपा सदस्य जया बच्चन.