×

Uttar Pradesh

चप्पे-चप्पे पर नजर रखेंगे 10 हजार CCTV, अयोध्या पर योगी का फूलप्रूफ प्लान तैयार

Ramlala Pran Pratishtha: बीते 500 सालों का इंतेजार खत्म होने को है, अयोध्या में 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होने जा रही है, इस समारोह में देश-विदेश से भारी संख्या में लोग शामिल होंगे, ऐसे में सुरक्षा के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार ने कुछ खास इंतेजाम किए हैं. कार्यक्रम को सफल बनाने के… Continue reading चप्पे-चप्पे पर नजर रखेंगे 10 हजार CCTV, अयोध्या पर योगी का फूलप्रूफ प्लान तैयार

Ramlala Pran Pratishtha: बीते 500 सालों का इंतेजार खत्म होने को है, अयोध्या में 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होने जा रही है, इस समारोह में देश-विदेश से भारी संख्या में लोग शामिल होंगे, ऐसे में सुरक्षा के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार ने कुछ खास इंतेजाम किए हैं. कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए रामनगरी में 10 हजार सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे. इसकी जानकारी स्पेशल डीजी प्रशांत कुमार ने गुरूवार को दी.

लगातार होगी फुट पेट्रोलिंग

प्रशांत कुमार ने कहा कि राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा समारोह 22 जनवरी को है. यह देश और विश्व के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण दिन है. इसलिए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए जा रहे हैं. अयोध्या आने जाने वाले रोड को सुरक्षित किया जा रहा है. सड़क पर डायल 112 की गाड़ियां फुट पेट्रोलिंग कर रही हैं. इसके अलावा सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैंय पूरे अयोध्या जनपद में 10 हजार से ऊपर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं.

डायवर्ट होंगे रास्ते

डीजी ने बताया कि 17 और 18 तारीख से ही भारी वाहनों को डायवर्ट किया जाएगा. इसके लिए लखनऊ और कानपुर के कमिश्नर के साथ-साथ एडीजी लखनऊ के द्वारा निर्देश जारी किए जाएंगे. सारी व्यवस्था डायनमिक होगी और समय-समय पर निर्देश दिए जाएंगे. हालांकि इससे आम नागरिकों को किसी तरह की कोई असुविधा न हो, इसका पूरा ध्यान रखा जाएगा. वहीं रेलवे स्टेशन और बस स्टेशन की सुरक्षा के लिए अतिरिक पुलिस बल मुहैया करवाए जाएंगे.

सुरक्षा के ये हैं खास इंतेजाम

बता दें कि जैसे-जैसे समारोह का दिन नजदीक आ रहा है, वैसे-वैसे कार्यक्रम के सफल आयोजन से लेकर मेहमानों के स्वागत और उनकी सुरक्षा में प्रशासन कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाह रहा हैं. प्राण प्रतिष्ठा समारोह से पहले सभी जिलों में संदिग्धों की चेकिंग कराए जाने को लेकर कड़े निर्देश दिए गए हैं.

अयोध्या में सुरक्षा को लेकर सरयू नदी में मोटर बोट से नजर रखी जा रही है. वहीं, ड्रोन कैमरे से चप्पे-चप्पे पर निगरानी रखी है. हर छोटी से छोटी घटना को पूरी गंभीरता से लिया जा रहा है और सतर्कता बरती जा रही है. इस दौरान सभी जिलों में होटल, धर्मशालाओं की चेकिंग की जा रही है.

अयोध्या रेंज के आईडी प्रवीण कुमार ने मीडिया को बताया कि लगभग 11 हजार अतिरिक्त सुरक्षा बल अयोध्या में तैनात किए जाएंगे. सुरक्षा एजेंसियों की नजर जमीन से लेकर आसमान तक रहेगी. इसके लिए एंटी ड्रोन सिस्टम और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस कमांड कंट्रोल सिस्टम तैयार किए गए हैं. आने-जाने वालों की फिजिकल चेकिंग के अलावा, उच्च स्तरीय सुरक्षा तकनीक का भी इस्तेमाल होगा.

ये भी पढ़ें: योगी राज का ‘दम’, यूपी में अपराधी ‘बेदम’